हिलैरी क्लिंटन को भारतीय समुदाय का समर्थन

25 जून 2007

हिलैरी क्लिंटन को भारतीय समुदाय का समर्थनविवार की रात न्यूयॉर्क के आलीशान शेरटन होटल के बॉल रूम में अमेरिका में बसे भारतीय समुदाय के प्रमुख व्यवसायी, डॉक्टर और गणमान्य नागरिकों ने डेमोक्रेटिक पार्टी के टिकट पर राष्ट्रपति पद की दावेदार हिलैरी क्लिंटन के समर्थन में आयोजित भोज में हिस्सा लिया।

अपने उद्‍बोधन में हिलैरी क्लिंटन ने अमेरिका में भारतीय समुदाय के योगदान और भारत-अमेरिका के बहुआयामी रिश्तों पर जोर दिया। इस कार्यक्रम के मुख्‍य आयोजक थे होटल व्यवसायी और क्लिंटन परिवार के घनिष्ठ मित्र संतसिंह चटवाल। हालाँकि बिल क्लिंटन कार्यक्रम में मौजूद नहीं थे।

अपने गरिमापूर्ण भाषण में हिलैरी ने अमेरिका के मुख्‍य आंतरिक विषय स्वास्थ्य सेवा, अर्थव्यवस्था और जनता के लिए प्रतिबद्ध शासन की चर्चा की। वहीं दूसरी ओर उन्होंने अमेरिका की विश्व में एक मित्र और मददगार राष्ट्र के रूप में छवि को वापस स्थापित करने के लिए अपना संकल्प दोहराया। उन्होंने भारत की महिला राष्ट्रपति बनने की संभावना का उल्लेख और स्वागत किया।

कार्यक्रम में डेमोक्रेटिक पार्टी के कई प्रमुख नेता भी मौजूद थे। भारतीय अमेरिका समुदाय में दीपक चोपड़ा और डॉ. राणावत भी उपस्थित थे

हिलैरी के भाषण के शुरू और अंत में 1250 से अधिक भारतीय समुदाय के लोगों ने खड़े होकर उनका अभिवादन किया और भारत के नाम के उल्लेख पर बार-बार तालियों से स्वागत किया। हिलैरी रोधम क्लिंटन का स्वागत करते हुए संतसिंह चटवाल ने कहा कि क्लिंटन परिवार और भारतीय समुदाय तथा भारत के रिश्ते बहुत पुराने और गहरे हैं। किसी भी चुनाव प्रत्याशी के लिए भारतीय समुदाय की ओर से यह पहला और अपने आप में सबसे बड़ा आयोजन था।

हिलैरी क्लिंटन का परिचय चटवाल के पुत्र विक्रम चटवाल ने दिया। पूरे अमेरिका से भारतीय इस कार्यक्रम के लिए आए थे। भारत से भी हिलैरी और क्लिंटन समर्थक गणमान्य व्यक्ति कार्यक्रम में शरीक थे। उनमें प्रमुख थे जी समूह के सुभाष चंद्रा, हिंदुजा और केन्द्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल। पटेल कार्यक्रम के कुछ पहले निकल गए थे। कार्यक्रम में डेमोक्रेटिक पार्टी के कई प्रमुख नेता भी मौजूद थे। भारतीय अमेरिका समुदाय में दीपक चोपड़ा और डॉ. राणावत भी उपस्थित थे।

पीले रंग की पोषाक और गले में बड़े मोतियों की माला पहने हिलैरी हर एक व्यक्ति से काफी आत्मीयता से हाथ मिला रही थीं और उनके समर्थन के लिए धन्यवाद व्यक्त कर रही थीं। बीच-बीच में संत चटवाल ‘खास’ मित्रों का हिलैरी को थोड़ा लंबा परिचय दे रहे थे। जिन चुनिंदा व्यक्तियों को हिलैरी क्लिंटन के साथ हाथ मिलाने और व्यक्तिगत तस्वरी खिंचवाने का भी अनूठा अवसर मिला, उस कतार में खड़े होकर बहुत करीब से हिलैरी क्लिंटन को चंद पलों के लिए देखने का अवसर मिला। अमेरिका में चुनाव प्रक्रिया के दौरान इस तरह के ‘डोनेशन डिनर’ का काफी प्रचलन है। कल रात के भोज में प्रति सीट 1000 डॉलर के अनुमान से भारतीय समुदाय के हिलैरी क्लिंटन के समर्थकों ने अपना ‘योगदान’ दिया था। आयोजन में लगभग 10 से 15 लाख डॉलर (4 से 5 करोड़ रुपए) हिलैरी क्लिंटन के चुनाव फंड के लिए जमा हुए।

टिप्पणी करें

CAPTCHA Image
Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)